परोपकारी जीवन पर निबंध Philanthropy (Paropkar) Essay in Hindi

परोपकारी जीवन पर निबंध Philanthropy (Paropkar) Essay in Hindi. परोपकार की भावना का लोक कल्याण से सम्बंध एवं परोपकारी जीवन पर विचार क्या है परोपकार : परोपकार अर्थात पर + उपकार । पर का अर्थ है दूसरा तथा उपकार का अर्थ है भलाई । यानि कि परोपकार का मतलब है कि दूसरों की भलाई करना। यानि कि परोपकार का मतलब है कि दूसरों की भलाई करना। Visit official website CISCE for detail information about ICSE Board Class-10..

परोपकार (Paropkar) की भावना लोक कल्याण से पूर्ण होती है Feeling Public Welfare 

परोपकार एक सामाजिक भावना है। इसी से हमारा सामाजिक जीवन सुखी और सुरक्षित होता है । परोपकार की भावना से ही हम अपने साथियों,मित्रों, परिचितो और अपरिचितों को निस्वार्थ सहायता कर सकते है।

हमें भी परोपकारी जीवन जीना चाहिए Philanthropy (Paropkari) Life

गोस्वामी तुलसीदास ने कहा है। परहित सरिस धर्म नहीं भाई । इसका मतलब है कि परोपकार से बड़ा कोई दूसरा धर्म नहीं है। वास्तव में मनुष्य वहीं है जिसका ह्रदय मानवीय गुणों से भरा है। यदि आपको दूसरों की पीड़ा देखकर उसके प्रति दया और परोपकार की भावना जाग्रत होती है तो आपके अन्दर एक परोपकार की भावना है।

परोपकार का उदाहरण Example on Philanthropy (Paropkar)

परोपकार एक अत्यन्त सुखद अहसास है। परोपकार का सबसे अच्छा उदाहरण है कि आप देख सकते है कि वृक्ष अपने फल स्वयं नहीं खाते है। नदी अपना जल स्वयं नहीं पीती है। और सूर्य हमेशा निस्वार्थ भाव से पूरे विश्व को प्रकाश देता है। ये परोपकार ही तो है इससे हमको यह सीख मिलती है ।

निस्वार्थ भाव से आप लोगो की भलाई के बारे मे सोचे तो आप एक परोपकारी मनुष्य है। परोपकार की भावना लोक कल्याण अर्थात लोगो के कल्याण करने से ही पूरी होती है। प्रत्येक व्यक्ति को परोपकारी अवश्य होना चाहिए।

 परोपकार पर अपना विचार Self Thought on Philanthropy (Paropkar) 

ईश्वर ने मानव को एक विशेष गुण दिया है वो है बुद्धि और संवेदनशीलता। ये गुण मानवजाति को संसार के अन्य सभी प्राणियों से अलग करता है। वरना केवल अपने स्वार्थ के लिए तो पशु जीते हैऔर फिर आप एक मनुष्य नहीं एक पशु है। जो लोग दूसरों के लिए जीते है, परोपकारी है वो लोग ही सच्चे मनुष्य कहलाने लायक है।

Return to : ICSE Specimen Paper 2023 Solved

–: visit also :–

Thanks

You might also like
Leave a comment